नागदा युवाओं के लिए अच्छी खबर सरकारी आई.टी.आई कॉलेज खुलने...

नागदा युवाओं के लिए अच्छी खबर सरकारी आई.टी.आई कॉलेज खुलने की प्रक्रिया शुरू

213
SHARE

Nagda|Mpnews24|नागदा में ग्रेसिम लेंसेंन्स एंव विभिन्न उघोग समूह में नौकरी पाने के लिये आईटीआई का प्रशिक्षण प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। उसके लिये भुमि का निरीक्षण किया। एसड़ीएम बनबना तालाब के निकट जमीन को देखने भी गई थी| लेकिन यहां कोई हल निकलता नहीं दिखा।

इसलिये नहीं निकला हल

बनबना तालाब के निकट की भूमि आईटीआई के निर्माण को लेकर तलाशी जा रही थी| लेकिन इसका हल इसलिये नहीं निकल पाया क्योंकि यहां की भूमि बस स्टेंड व रेल्वे स्टेशन से काफी दूर होना पाई गई। इसलिये मामला आगे नहीं बड़ पाया।

पूर्व में दुर्गापुरा का निरीक्षण

पूर्व में आईटीआई भवन के निर्माण को लेकर दुर्गापुरा स्थित सामुदायिक भवन का प्रस्तावित था| लेकिन इसके निरस्त होने के बाद आईटीआई भवन निर्माण के स्थायी समाधान की खोज शुरु की गई थी।

इन्होनें दिए सुझाव 

भूमि चयन को लेकर एसड़ीएम के समक्ष आई शहर में आईटीआई प्राचार्य पुरोहित ने बिरलाग्राम पेट्रोल पम्प के सामने श्रम शिविर में अस्थायी रुप से आईटीआई शुरु करने का सुझाव रखा। वहीं राजस्व अमले ने गांव डाबरी में गोशाला के लिए चयनित भूमि के समीप आईटीआई भवन निर्माण करने की बात रखी। परंतु किसी भी तरह का निराकरण नहीं हुआ।

इन्होनें की भूमि निरीक्षण 

भूमि चयन को लेकर एसड़ीएम बाफना के अलावा तहलीदार रमेश सिसोदिया, आईटीआई प्राचार्य केसी पुरोहित खाचरौद, प्रशिक्षक केके यादव, पटवारी किशनलाल परमार, अनिल शर्मा आदि भी शामिल थे।