नागदा- लोकतंत्र को राहत, मनमानी को मात, अब हाईकोर्ट के पाले में गेंद , उस पर टिकी निगाहें

0
399

Nagda | Mpnews 24 । गत दिनों नपा नागदा की अगुवाई में खेले गए डाडिया रास का मामला एक बार फि र सुखिर्यों में आया है। अब जिम्मेदारों पर मुसीबत की खबर है। इधर, लोकतंत्र को राहत मिली है तो मनमानी को मात।हाईकोर्ट में गरबा कार्यक्र म को चुनौती देने के बाद नगरीय निकाय विभाग के डिप्टी डायरेकटर ने डाडिया रास कार्यक्रम के भुगतान पर रोक लगा दी है।

27 अकटूबर को हाईकोर्ट में जवाब की पेशी

इधर मप्र शासन को इस मामले में जवाब पेश करने के लिए २७ अकटूबर की तिथि निर्धारित है। ऐसी स्थिति में सारा दारोमदार अब हाईकोर्ट के निर्णय पर टिका है।हालांकि इस मामले में हाईकोर्ट ने अभी कोई रोक नहीे लगाई है। लेकिन हाईकोर्ट का  नोटिस जारी होते ही डिप्टी डायरेकटर हरकत में आए और भुगतान को रोकने का फ रमान सीएमओ को थमा दिया है।

इन्होंने दायर की थी याचिका

हाईकोर्ट में यह मामला नपा में प्रतिपक्ष नेता सुबोध स्वामी एवं आरटीआई कार्यकर्ता अभय चौपड़ा ने उठाया था। इनका यह मत यह थाकि गरबा नियमों के खिलाफ है।

विधि-वेताओं की राय

इधर , गरबा कार्यक्रम का अधिकांश भुगतान किया जा चुका है। ऐसी स्थिति में विधि वेताओं को कहना है कि यदि निर्णय गरबा कार्यक्रम के खिला हुआ तो भुगतान की गई राशि को वसूलने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY