नागदा-अच्छी खबर , यदि इस प्रोजेक्ट पर हुआ काम तो चमक उठेगी...

नागदा-अच्छी खबर , यदि इस प्रोजेक्ट पर हुआ काम तो चमक उठेगी शहर की किस्मत

802
SHARE

nagda_road nagda_roadNagda|Mpnews24| यदि इस प्रोजेक्ट पर हुआ काम तो चमक उठेगी शहर की किस्मत शहर के लिये यह अच्छी खबर है कि भारी वाहनों की वजह से सडक़ से गुजरते समय यहां के लोगो को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता था| दुर्घटनाऐं भी हुआ करती थी लेकिन अब उक्त समस्या पर विराम लगता दिखाई दे रहा है।

स्वीकृत  7 करोड़ 50 लाख की राशि

नागदा एसड़ीएम ऋजु बाफना ने लगभग 4.5 किमी लंबे रिंगरोड़ निर्माण के लिए स्वीकृत 7 करोड़ 50 लाख की राशि को ध्यान मे रखते हुए रिंगरोड़ के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने हेतु सीमाकंन कार्य शुरू करने के आदेश जारी कर दिये है । मंगलवार को राजस्व विभाग के अमले ने एसड़ीएम के आदेश पर अमल करते हुए मौका स्थल पर पहॅुचकर सीमांकन की कार्यवाही को अंजाम भी दिया है ऐसे में यह संभावनाऐं बन गई है कि देर सवेर अब रिंगरोड़ के निर्माण की प्रकिया शुरू हो जाएगी।

विधायक उठा चुके है विधानसभा में मुद्दा

जिस रिंगरोड़ मार्ग के लिये सीमांकन की कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है उसको लेकर विधायक दिलीपसिंह शेखावत खासे प्रयासरत थे | विधानसभा में भी वह प्रश्न उठा चुके थे । उसी की बदौलत विभाग के मंत्री के द्वारा 4.5 किलोमीटर लंबे रिंगरोड़ के निर्माण को लेकर सात करोड़ 50 हजार रूपए की स्वीकृति मिल पाई थी।

यहां से हुई सीमाकंन की प्रकिया शुरू

एसडीएम ऋजु बाफना के आदेश पर रिंगरोड़ के सीमांकन के लिए राजस्व विभाग के गठित दल ने केमिकल उद्योग के पारदी गेट से लेकर सीमांकन की प्रकिया प्रारंभ की तथा कहां कहां शासकीय भूमि है की भी भौगोलिक स्थिति को परखा गया। सीमांकन की यह कार्यवाही पारदी पहुंचमार्ग से लेकर हनुमान मंदिर व रेलवे फाटक तक की गई। कुछ स्थानों पर निजी भूमि भी पाई गई।

ये थे सीमांकन करने वालों में शामिल

सीमांकन के दौरान आरआई रघ्ुानाथ मचार, पटवारी अनिल शर्मा नागदा, पटवारी कैलाश सुल्तानिया बोरखेड़ा, पटवारी विक्रमसिंह चौहान भाटीसुड़ा, लोनिवि इंजीनियर अरुण दुबे, पूर्व सरपंच रणछोड़सिंह आंजना पारदी सहित लगभग आधा दर्जन कोटवार एवं ग्रामीणजन मौजूद थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार रिंगरोड़ उज्जैन जावरा बायपास मार्ग स्थित जयभवानी पेट्रोल से होकर रेलवे फाटक के समीप से केमिकल उद्योग के पारदी गेट के सामने निकलेगा।

एसडीएम कहना है

रिंगरोड़ के लिए भूमिअधिग्रहण की कार्यवाही शुरु करने के आदेश दिए थे, जिस पर दल ने मौके पर पहुंचकर सीमांकन कार्य शुरु किया है।