नागदा-भारतीय किसान संघ ने दिया मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन

0
66

Nagda|Mpnews24| किसानों की विभिन्न समस्याओं को लेकर भारतीय किसान संघ तहसील ईकाई नागदा के द्वारा एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को दिया गया है। ज्ञापन में इस बात का उल्लेख किया गया है कि समर्थन मूल्य पर जिन किसानों ने अपनी उपज को बेचा था उन्हे सहकारी सोसायटी के द्वारा समय पर भुगतान नहीं किया जा रहा है किसानों को फसल का पैसा 15 से 20 दिन में टुकडों टुकडों में दिया जा रहा है जबकि किसान को उसकी बेची गई उपज का पूरा पैसा एक मुस्त मिलना चाहिए । इसके अलावा इस बात का भी जिक्र किया गया कि किसान द्वारा खाद्य बिज व अन्य ऋण जो पूर्व में किसानों के द्वारा जमा करवा दिया गया था फिर भी किसानों को फसल के भुगतान में से काटा जा रहा है और एक महीने बाद वापस किया जाता है। इसे तत्काल बंद किया जाए साथ ही उन्होने कहा कि सोसायटी के द्वारा बैंक में पैसा नहीं होने की बात कहते हुए किसानों को टुकडों टुकडों में पैसे दिया जा रहा है । एसे में पर्याप्त मात्रा में बैंको को पैसे उपलब्ध करवाया जाए।

परिवहन नहीं होने के कारण बंद पड़ा हुआ है खरीदी का कार्य

नागदा सोसायटी केन्द्र के द्वारा समर्थन मूल्य पर करीब एक सप्ताह से भी अधिक समय बीत जाने के बाद भी खरीदी के कार्य को शुरू नहीं किया गया है तथा किसानों को कहा जा रहा है कि पूर्व में जो उपज खरीदी गई थी उसका माल परिवहन नहीं हो पा रहा है जिसके कारण खरीदी का कार्य रोक दिया गया है। एसे में किसानों को काफी दिक्कते झेलना पड़ रही है। संघ के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि उक्त उत्पन्न समस्या का निराकरण करवाया जाए। इसके अलावा संघ के पदाधिकारियों ने पिपलोदा सांगोती माता में चंबल नदी के डेम की ऊचाई बढाने का भी विरोध किया है तथा कहां है कि डेम की ऊचाई बढाने से किसानों की जमीन डूब में आ रही है। एसे में प्रारंभ किए कर्य को तत्कल रोका जाए एवं प्रभावितों को मुआवजा दिलाया जाए।

कम्प्यूटर डाटा शीघ्र चालू करने की मांग

विगत 6 माह से तहसील कार्यालय में कम्प्यूटर का डाटा बंद पडा हुआ है। एसे में किसानों को दो साल पिछली खसरा बी.1 की नकल नहीं निकल पा रही है। एसे में किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उक्त समस्या का निराकरण करने तथा बंद पडे हुए कम्प्यूटर डाटा को शीघ्र चालू करने की मांग की है।

ये थे मौजूद

इस मौके पर उदयसिंह आंजना, भारतसिंह पंवार, नागूङ्क्षसह आंजना, नागेश्वर शर्मा, जसवंत शर्मा, नारायणसिंह डोडिया, विजयसिंह आंजना, गोपीलाल आजना रामचन्द्र ,कालूसिंह तंवर आदि मौजूद थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY